Popads

Thursday, 3 September 2015

नए प्याज Onions जोक्स और चुटकुले , कार्टून्स



नए प्याज Onions जोक्स और चुटकुले , कार्टून्स 




Wife: Aaj To Main 5 Rupey Ke 3
Pyaaz Le Aayi.
.
Husband (Excited): Areey Waah! Wo
Kaise?
.
Wife: Pyaaz Wale Ne To 5 Rupye Ka
1 Hi Diya Tha,
Ek Mein Utha Ke Bhag Aayi, Aur 1
Usne Mujhe Fenk Ke Mara .....
.
.
.
.
आज एक मित्र को प्याज और अरहर की दाल ले जाते हुए देखा।
आँख भर आई जब उसने कहा 
FD तुड़वाई है यार।
.
.
.
.
देश में प्याज़ से सस्ता पेट्रोल
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
ऐसी दुर्लभ "खगोलीय घटना"
कई वर्षों में एक बार होती है 
.
.
.
.
हर किसी को नहीं मिलता यहाँ प्याज ज़िन्दगी में
खुशनसीब हैं वो जिनको हें मिली ये सलाद ज़िन्दगी में
.
.
.
.
ईमानदारी आज भी जीवित है
.
.
.
.
.
.
: सड़क पे
मीलें आधा कीलों प्याज़ एक आदमी ने उसके
मालीक को ढुंढ कर सही सलामत लौटाये!
.
.
.
.
जो लोग अपनी गाड़ी का पेट्रोल-टैंक फुल भरवा के खुद को अमीर समझ रहे हैं, 
उन्हें बता दूं क़ि मैंने अभी-अभी प्याज के परांठे खाये हैं। 
.
.
.
.
“ग़ज़ल दो प्याज़ा”
,,,,
हमने सूंघी है कहीं प्याज़ की महकती खुशबू 
हाथ से छू लो इन्हें पर लेने का नाम न लो 
सिर्फ एहसास रखो औ रूह से महसूस करो 
प्याज़ का प्यार ही रहने दो कोई दाम न दो
प्याज़ का मोल नहीं प्याज़ कोई प्यार नहीं
एक झटका सा है जो धीरे से लगा करता है
न ये रुकता है न झुकता न घटता है कभी
इसका दाम जो है वो दिन रात बढ़ा करता है
सिर्फ एहसास रखो औ रूह से महसूस करो 
प्याज़ का प्यार ही रहने दो कोई दाम न दो
मुस्कराहट खिलती है दुकानदार के मुह पर
खरीदार की जेबें तो दिन रात लुटा करती हैं
होंठ कुछ कहते नहीं.कांपते होठों पर मगर
किस्सा ए प्याज़ ही इक बात हुआ करती है
सिर्फ एहसास रखो औ रूह से महसूस करो
प्याज़ का प्यार ही रहने दो कोई दाम न दो.कार्ड कार्ड .
.
.
.
सब्जीवाला। .. दो किलो प्याज़ , चलिए अपना पैन कार्ड जमा कीजिए. 
.
.
.
ब्रेकिंग न्यूज़
एडमिन गिरफ्तार
एक मेंबर को ग्रुप मैं ऐड करने के लिए
मांगी रिश्वत में
प्याज
.
.
.
.
प्याज़ की एक पौराणिक कथा ................
जब भगवान सारी सब्जियों को उनके गुण और सुगंध बांट रहे थे तब प्याज चुपचाप उदास होकर पीछे खड़ी हो गई. सब चले गए प्याज नहीं गई. खड़ी रही..
तब विष्णुजी ने पूछा.. क्या हुआ तुम क्यों नही जाती?
तब प्याज रोते हुए बोली आपने सबको सुगंध और सुंदरता. गुण . दिए पर मुझे बदबू दी. जो मुझे खाएगा उसका मुंह बदबू देगा. मेरे साथ ही यह व्यवहार क्यों?
तब भगवान को प्याज पर दया आ गई. उन्होने कहा...
मै तुम्हे अपने शुभ चिन्ह देता हूं.यदि तुम्हे खड़ा काटा जायगा तो तुम्हारा रूप शंखाकार होगा. और यदि आड़ा काटा गया तो चक्र का रूप होगा. और सारी सब्जियों को तुम्हारा साथ लेना होगा.तभी वे स्वादिष्ट लगेंगी.....
और अंत मे तुम्हे काटने पर लोगों के वैसे ही आंसू निकलेंगे जैसे आज तुम्हारे निकले हैं...जब जब धरती पर मंहगाई बढ़ेगी .तुम सबको रुलाओगी.
दोस्तों इसीलिए प्याज आज रुला रही है .उसे वरदान जो प्राप्त है.......
.
.
.
.
Indo-Pak NSA Meeting पे एक शेर, अर्ज़ किया है...
अज़ीज़ तो हैं आप, हम सरताज भी बनायेंगे,
लाहौरी कबाब लाना, हम प्याज़ खिलायेंगे !
.
.
.
.
हर किसी को नही मिलता यहाँ प्याज जिंदगी में...
sorry......"प्यार" कहना था गलती से "प्याज" निकल गया मुंह से ....
.
.
.
.
पति : सुनती हो, मेरी मां आई हैं. पत्नी (बीच में टोकते हुए): लो फिर आ गई..
पिछले महीने ही तो आई थीं..
जब देखो चली आती हैं, अब क्या काम है..?
पति : साथ में दो किलो प्याज भी लाई हैं..
पत्नी: आप भी न.?
पहले बोलना था न मां आई हैं..
बड़े बुजुर्गों का आशीर्वाद नसीब वालों को ही मिलता है...

.
.
.
.
अब तो टूथपेस्ट में भी प्याज़ होना चाहिये,सुबह एक बार मंजन करो और सारा दिन स्वाद लेते रहो। खामखाँ का प्याज़ -प्याज़ रोते रहते हैं
.
.
.
.
प्याज कोई खेल नहीं!
बढती प्याज की कीमतों के हिसाब से जल्दी ही फिल्मो के डायलाग इस प्रकार के होंगे !
मुलाहिजा फरमाईये।  
~~~~~~~~~~~~
मेरे करण अर्जुन आयेंगे;
और दो किलो प्याज़ लायेंगे. . .

ये ढाई किलो के प्याज़ जब आदमी लेता है ना; 
तो आदमी उठता नहीं उठ जाता है. . .

मेरे पास बंगला है गाडी है बैंक बैलेंस है रुपया है पैसा है, तुम्हारे पास क्या है?
मेरे पास प्याज़ है!भाई

जिनके घर प्याज़ के सलाद होते हैं;
वो बत्ती बुझा कर खाना खाते हैं. . .

चिनॉय सेठ, प्याज़ बच्चों के खेलने की चीज़ नहीं होती;
कट जाए तो अांखों से आँसू निकल आते हैं. . .

मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता साहेब;
प्याज़ हो तो अलग बात है. . .

लगता है सब्जी मंडी में नए आये हो बरखुरदार;
सारा शहर मुझे प्याज़ के नाम से जानता है. . .

11 राज्यों की सरकार मुझे ढूंढ़ रही है;
पर प्याज़ को खरीदना मुश्किल ही नहीं,नामुमकिन है. . .

ये दोनों प्याज मुझे दे-दे ठाकुर। . . .
तुम्हें चारो तरफ से पुलिस ने घेर लिया है गब्बर;
अपनी सारी प्याज कानून के हवाले कर दो. . .
.
.
.
.
प्याज को बड़ा घमण्ड था 
अपनी ' परत - दर - परत ' को देख कर
.
बाद में इन्द्राणी मुखर्जी आई 
और 
प्याज बेचारा उसे देख कर 
शर्म के मारे बाजार से गायब हो गया
.
.
.
.
आपको गुस्सा आ रहा है प्याज़ के भाव देखकर..?
अरे.. जरा उन मुर्गों और बकरों से पूछिये..
जिनकी उमर बढ़ गयी प्याज की कीमत बढ़ने से..! 
.
.
.
.
सुबह से 50 -60 लडकियो के फोन आ चुके है। 
और " I LOVE YOU " बोल रही थीं। 
.
.
.
.
पता नही कौन कमीना ये अफवा फैल दिया हैँ। 
मेरी सब्जी मन्डीँ मे " प्याज " कि दुकान हैँ।
.
.
.
.
भगवान आपको ढेर सारा प्याज़ और खूब सारी खुशियाँ दे।
.
.
.
.
.
तराजू पर बैठे  मुर्गा  आँख फार के ग्राहक को घूर रहा था . . . . .
.
क्यो बे , मुझे क्यों  आँख फार के घूर रहे हो ?
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
मुर्गा:- साले , मुझे तो खरीद लिया , प्याज
खरीद कर दिखा . . . 
.
.
.
.
.










जीवन का मूल्य :

जीवन का मूल्य :

गुरुनानक Saheb के पास एक आदमी
गया और उसने कहा बताईये गुरूजी
जीवन का मूल्य क्या है?

गुरूनानक ने उसे एक Stone दिया 
और कहा , जा और इस stone का 
मूल्य पता करके आ , लेकिन ध्यान 
रखना stone को बेचना नही है I

वह आदमी stone को बाजार मे एक
संतरे वाले के पास लेकर गया और
संतरे वाले को दिखाया l
बोला "बता , इसकी कीमत क्या है?

संतरे वाला चमकीले stone को देख 
कर बोला, "12 संतरे लेजा और इसे 
मुझे दे जा"

वह आदमी संतरे वाले से बोला गुरू 
ने कहा है इसे बेचना नही है l

और
आगे एक सब्जी वाले के पास गया, 
उसे stone दिखाया l सब्जी वाले ने 
उस चमकीले stone को देखा और
कहा "एक बोरी आलू ले जा और 
इस stone को मेरे पास छोड़ जा"

उस आदमी ने कहा , मुझे इसे बेचना 
नही है , मेरे गुरू ने मना किया है I

आगे एक सोना बेचने वाले सुनार के 
पास गया उसे stone दिखाया सुनार
उस चमकीले stone को देखकर बोला
"50 लाख मे बेच दे" l उसने मना कर
दिया तो सुनार बोला "2 करोड़ मे दे दे 
या बता इसकी कीमत जो माँगेगा वह
दूँगा तुझे

उस आदमी ने सुनार से कहा मेरे गुरू
ने इसे बेचने से मना किया है l

आगे हीरे बेचने वाले एक जौहरी के पास
गया उसे stone दिखाया l जौहरी ने जब
उस बेसकीमती रुबी को देखा , तो पहले
उसने रुबी के पास एक लाल कपडा
बिछाया फिर उस बेसकीमती रुबी की
परिक्रमा लगाई माथा टेका l फिर जौहरी
बोला , "कहा से लाया है ये बेसकीमती
रुबी

"सारी कायनात , सारी दुनिया को बेचकर
भी इसकी कीमत नही लगाई जा सकती 
ये तो बेसकीमती है l"

वह आदमी हैरान परेशान होकर सीधे गुरू
के पास आया l अपनी आप बिती बताई
और बोला
"अब बताओ गुरूजी मानवीय जीवन का
मूल्य क्या है?

गुरूनानक बोले :
तूने पहले stone को संतरे वाले को
दिखाया उसने इसकी कीमत 
"12 संतरे" की बताई l

आगे सब्जी वाले के पास गया उसने 
इसकी कीमत "1 बोरी आलू" बताई l

आगे सुनार ने "2 करोड़" बताई l
और
जौहरी ने इसे "बेसकीमती" बताया l
अब ऐसे ही तेरा मानवीय मूल्य है lतू बेशक हीरा है लेकिन सामने वाला तेरा आकलन अपनी औकात अपनी जानकारी और अपनी हैसियत और मकसद से लगाएगा। घबराओ मत दुनिया में तुझे पहचानने वाले भी मिल जायेगे।
Respect Yourself,
You are also Unique,
No One Can Replace You.        " BELIEVE IN YOU "